Casino Game Sign Up Bonus ✨ Live Casino

(M88) - Casino Game Sign Up Bonus Increase your chances of winning with our online casino, Casino Game Free Bonus feeling lucky? play now at our gambling platform. उन्होंने रेस्क्यू टीम का आभार प्रकट करते हुए भी लिखा है ‘उन सभी बहादुर पुरूषों और महिलाओं के लिए तालियां जो बचाव कार्यों में सबसे आगे रहे हैं, मेडिकल टीम और स्वयंसेवक जो स्वेच्छा से रक्तदान कर रहे हैं। हम इसमें साथ हैं।”

Casino Game Sign Up Bonus

Casino Game Sign Up Bonus
Increase your chances of winning with our online casino

आइए अब जानते हैं स्वादिष्‍ट पोहे बनाने की सबसे आसान रेसिपी : सामग्री : 250 ग्राम पोहा, 2-3 हरी मिर्च और 1 बड़े साइज का प्याज (बारीक कटा हुआ), पाव चम्मच हल्दी पावडर, पाव चम्मच कालीमिर्च पाउडर, 2 छोटे चम्मच शकर, छौंक के लिए राई-जीरा, 1 चम्मच सौंफ, थोड़ा-सा मीठा नीम, चुटकीभर हींग, 1 बड़ा चम्मच तेल, नमक स्वादानुसार, बारीक कटा हरा धनिया, आधा बारीक कटा प्याज, सेंव, जीरावन मसाला और 1 नींबू। विधि : पोहे को एक बड़ी परात या थाली में लेकर साफ करके 2-3 बार पानी से धो लें। थाली को तिरछी करके पोहे का सारा पानी निकाल लें और उसे एक तरफ ढेरी करके जमा दें। करीबन 15-20 मिनट तक उसे गलने दें। अब एक कड़ाही में तेल गरम करके राई-जीरा तड़काएं। मीठा नीम, सौंफ और हींग डालें। फिर हरी मिर्च डालें, अब प्याज डालकर गुलाबी होने तक भून लें। अब हल्दी डालें। इसके बाद पोहे में कालीमिर्च, नमक, शकर डालकर अच्छी मिक्स करें और कड़ाही में डाल दें। एक प्लेट से ढंककर 5-7 मिनट तक धीमी आंच पर पोहे को पकने दें। तत्पश्चात गैस बंद कर दें, ऊपर से हरा धनिया बुरकें। अब पोहे को प्लेट में परोसें, ऊपर से जीरावन, सेंव, कटा प्याज डालें और नींबू निचोड़ कर स्वादिष्‍ट, चटपटे इंदौरी पोहे का आनंद लें। Casino Game Sign Up Bonus, कुछ डांट का, कुछ प्यार सा, खट्टा मीठा रिश्ता हमारा,

भृंगी ऋषि की कथा M88 Don't Gamble Away Your Future! feeling lucky? play now at our gambling platform Ishan Kishan, KS Bharat, Axar Patel, Jaydev Unadkat and Shubman Gill इन पांच भारतीय खिलाडियों का इस ग्राउंड पर अभी खेलना बाकी है।

Live Casino

पारामारिबो। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने घोषणा की है कि भारत ने सूरीनाम में मूल भारतीय प्रवासियों के 'ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया' (ओसीआई) कार्ड के लिए पात्रता मानदंड को 4थी से 6ठी पीढ़ी तक बढ़ाने का फैसला किया है, जो 150 साल पुराने द्विपक्षीय संबंधों में उनके महत्व को दर्शाता है। मुर्मू ने सोमवार को यहां इंडिपेंडेंस स्क्वायर पर एक समारोह को संबोधित करते हुए यह घोषणा की। इससे पहले सूरीनाम के अपने समकक्ष चंद्रिका प्रसाद संतोखी के साथ वे सूरीनाम में भारतीयों के आगमन के 150 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित एक सांस्कृतिक समारोह की गवाह बनीं। विदेश में बसे और वहां की नागरिकता ले चुके भारतीय लोगों के लिए ओसीआई कार्ड की सुविधा प्रदान की गई है। उल्लेखनीय है कि 452 भारतीय मजदूरों को लेकर 5 जून, 1873 को पहला जहाज 'लल्ला रुख' सूरीनाम की राजधानी पारामारिबो पहुंचा था। इनमें ज्यादातर मजदूर पूर्वी उत्तरप्रदेश और बिहार के रहने वाले थे। मुर्मू ने कहा कि आज इस ऐतिहासिक अवसर पर मुझे इस मंच पर यह घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि मेरी सरकार ने ओसीआई कार्ड के लिए पात्रता मानदंड को 4थी से 6ठी पीढ़ी तक बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि ओसीआई कार्ड को भारत के साथ उनके 150 साल पुराने संबंधों की एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में देखा जा सकता है। उन्होंने प्रवासी भारतीयों से भारत के साथ अपने संबंधों को बनाए रखने के प्रयास जारी रखने का आग्रह किया। इससे पहले ओसीआई सुविधा भारत से सूरीनाम पहुंचे समुदाय के मूल पूर्वजों की केवल 4 पीढ़ियों तक के लिए ही थी। नतीजतन 5वीं और बाद की पीढ़ियों से संबंधित समुदाय के कई युवा सदस्य इस लाभ से वंचित थे। मुर्मू ने कहा कि हम सभी सूरीनाम में भारतीयों के आगमन की 150वीं वर्षगांठ मनाने के लिए आज यहां एकत्र हुए हैं, जो सूरीनाम के इतिहास में मील का एक महत्वपूर्ण पत्थर है। इस अवसर पर मैं अपने पूर्वजों को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं और उन लोगों को सलाम करती हूं जिन्होंने इस राष्ट्र के निर्माण में मदद की। उन्होंने कहा कि एक बहुसांस्कृतिक समाज और अवसरों की भूमि के रूप में सूरीनाम ने उन सभी विभिन्न समुदायों का स्वागत किया है, जो यहां आए और बस गए। उन्होंने कहा कि इन वर्षों के दौरान विविध समुदाय एक परिवार और एक देश के रूप में विकसित हुए। उन्होंने एकता और समावेशिता के प्रति समर्पण और प्रतिबद्धता के लिए सूरीनाम के लोगों की सराहना भी की। राष्ट्रपति मुर्मू ने कहा कि उन्हें यह जानकर प्रसन्नता हुई है कि विशाल भौगोलिक दूरियों, विभिन्न समय क्षेत्रों और सांस्कृतिक विविधता के बावजूद भारतीय प्रवासी हमेशा अपनी जड़ों से जुड़े रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत अपनी विविधता के लिए जाना जाता है और दोनों देशों के बीच बहुत सारी समानताएं भी हैं। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के लोग एक-दूसरे के समाज में बहुत आसानी से मिल-जुल सकते हैं। मुझे ऐसा लग रहा है कि मैं अपने घर पर हूं। उन्होंने कहा कि पिछले 150 वर्षों में भारतीय समुदाय न केवल सूरीनाम में समाज का एक अभिन्न अंग बन गया है, बल्कि यह भारत और सूरीनाम के बीच गहरी साझेदारी का एक महत्वपूर्ण स्तंभ भी है। राष्ट्रपति ने कहा कि ऐसे समय में जब सूरीनाम अपने पूर्वजों की विरासत और भारत के साथ अपने संबंधों का जश्न मना रहा है, भारत एकजुटता और श्रद्धा के साथ सूरीनाम के साथ खड़ा है। सूरीनाम और भारत दोनों ने औपनिवेशिक शासन की लंबी अवधि के बाद अपनी अर्थव्यवस्थाओं और सामाजिक प्रणालियों के पुनर्निर्माण के लिए प्रयास किए हैं। उन्होंने कहा कि इस अनुभव ने दोनों देशों के बीच एकजुटता की भावना पैदा की है। मुर्मू ने कहा कि भारत-सूरीनाम द्विपक्षीय संबंध विकास की साझा आकांक्षाओं पर आधारित हैं। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आने वाले दिनों में भारतीय समुदाय इस संबंध को मजबूत करना जारी रखेगा और आप में से प्रत्येक व्यक्ति दोनों देशों को जोड़ते हुए भारत और सूरीनाम के बीच एक पुल के रूप में काम करता रहेगा। इस अवसर पर मैं आप सभी को भारत आने, भारत की विकास यात्रा देखने और उसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित करती हूं। इससे पहले सोमवार को राष्ट्रपति ने बाबा और माई स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। बाबा और माई स्मारक सूरीनाम में पहली बार पैर रखने वाले पहले भारतीय पुरुष और महिला का प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व करता है। इसके बाद उन्होंने मामा श्रनन स्मारक में सम्मान व्यक्त किया। इस स्मारक में एक महिला अपने 5 बच्चों को लिए हुए है। इस महिला को सूरीनाम की मां मामा श्रनन तथा पांचों बच्चों को सूरीनाम की 5 विशेषताओं का प्रतीक माना जाता है। मुर्मू ने सूरीनाम के राष्ट्रपति द्वारा उनके सम्मान में आयोजित दोपहर के भोज में भी भाग लिया। इस दौरान अपने संबोधन में राष्ट्रपति मुर्मू ने एक समावेशी विश्व व्यवस्था के लिए भारत के उस दृष्टिकोण को रेखांकित किया, जो हर देश और क्षेत्र के वैध हितों और चिंताओं के प्रति संवेदनशील है। मुर्मू 3 दिवसीय राजकीय यात्रा पर रविवार को सूरीनाम पहुंचीं। पिछले साल जुलाई में पदभार संभालने के बाद यह उनकी पहली राजकीय यात्रा है।(भाषा) Edited by: Ravindra Gupta Live Casino, कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के नेता अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को प्रवर्तन निदेशालय के 'लुकआउट' नोटिस का हवाला देते हुए कथित तौर पर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाने वाली एक उड़ान पर सवार होने से रोक दिया गया। प्रवर्तन निदेशालय ने रुजिरा बनर्जी को 8 जून को पेश होने को कहा है। रुजिरा बनर्जी के वकील ने यह जानकारी दी। सूत्रों के अनुसार रुजिरा विमान में सवार होने के लिए अपने 2 बच्चों के साथ सुबह 7 बजे नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचीं। रुजिरा के एक वकील ने बताया कि उन्हें एक मामले में ईडी की ओर से जारी लुकआउट नोटिस का हवाला देते हुए आव्रजन पर रोका गया। उच्चतम न्यायालय के एक आदेश में कहा गया है कि उनकी विदेश यात्रा पर कोई रोक नहीं है। वकील ने कहा कि रुजिरा ने ईडी को शनिवार को अपनी यात्रा योजना के संबंध में जानकारी दी थी और टिकट की प्रति भी दी थी। उन्होंने कहा कि अब उन्हें रोक दिया गया। उन्हें 5 जून की तारीख वाले समन की प्रति भी सौंपी गई जिसमें उनसे 8 जून को कोलकाता में ईडी कार्यालय में पेश होने को कहा गया है। वे अब घर लौट गई हैं। इस संबंध में जानकारी के लिए हवाई अड्डे तथा ईडी प्राधिकारियों से संपर्क किया गया लेकिन उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई। रुजिरा के कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में दावा किया गया कि उच्चतम न्यायालय का आदेश है कि जिसमें कहा गया है कि दंपति पर विदेश यात्रा पर कोई प्रतिबंध नहीं है। बयान में कहा गया कि रुजिरा बनर्जी ने 5 से 18 अक्टूबर तक अमेरिका की यात्रा की थी और तब ईडी को कोई आपत्ति नहीं थी। गौरतलब है कि पिछले वर्ष ईडी ने कोयला चोरी घोटाला मामले में रुजिरा से पूछताछ की थी। सीबीआई ने भी इसी मामले में 2021 में रुजिरा से पूछताछ की थी।(भाषा) Edited by: Ravindra Gupta

Your chance to hit the jackpot – our online casino! M88 किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। आप पैनी नजर के होते हैं। शुभ दिनांक : 7, 16, 25 शुभ अंक : 7, 16, 25, 34 शुभ वर्ष : 2023 ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु शुभ रंग : सफेद, पिंक, जामुनी, मेहरून कैसा रहेगा यह वर्ष नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं व मंदिर में पताका चढ़ाएं। आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। फंसे हुए 121 शव निकाले : बता दें कि बालासोर में तीन ट्रेनों के आपस में टकराने के बाद बचाव अभियान के लिए NDRF के नौ दलों को तैनात किया गया था। भारत के सबसे भीषण रेल हादसों में से एक इस दुर्घटना में कम से कम 278 लोगों की मौत हो गई और 900 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए।

Casino Game Free Bonus

Gujarat: गुजरात के पाटन जिले से एक बर्बरतापूर्ण समाचार सामने आया है। यहां से एक दलित व्यक्ति के हाथ का अंगूठा काटे जाने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार क्रिकेट मैच के बीच गेंद उठाने को लेकर यह लड़ाई शुरू हुई थी। पुलिस ने पीड़ितों की शिकायत के बाद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। यह मामला गुजरात के पाटन जिले के काकोशी गांव का है। एफआईआर के अनुसार गांव के स्कूल ग्राउंड में दबंग लोगों का एक समूह क्रिकेट मैच खेल रहा था। मैच के बीच एक दलित लड़के ने गेंद उठा ली थी। इसको लेकर क्रिकेट खेल रहे युवक भड़क गए। उन्होंने दलित समुदाय के सदस्यों का अपमान करने और डराने के इरादे से गेंद उठाने वाले लड़के को जातिसूचक गालियां दीं। इस दौरान मौजूद जब लड़के के चाचा धीरज परमार ने इस पर आपत्ति जताई तो मामला शांत हो गया, हालांकि बाद में शाम को धारदार हथियारों से लैस 7 लोगों के एक समूह ने धीरज और उसके भाई कीर्ति के घर हमला कर दिया। पिता को पीटा और एक आरोपी ने दलित युवक कीर्ति का अंगूठा काट दिया और उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। पुलिस ने पीड़ितों की शिकायत के बाद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामला जांच में लिया है। Edited by: Ravindra Gupta Casino Game Free Bonus, चलिए जानते हैं ब्रेन ट्यूमर से जुड़े मिथ के बारे में

नई दिल्ली। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने प्रदर्शनकारी पहलवानों के साथ 6 घंटे तक चली बैठक के बाद बुधवार को कहा कि भारतीय कुश्ती महासंघ (wfi) के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brijbhushan Sharan Singh) के खिलाफ दिल्ली पुलिस की जांच 15 जून तक पूरी हो जाएगी। पहलवान साक्षी मलिक, बजरंग पुनिया और सत्यव्रत कादियान ठाकुर के घर पर आज उनसे मुलाकात करने गए। बैठक के बाद ओलिंपिक मेडलिस्ट पूनिया ने कहा कि उनकी सरकार से कुछ बिंदुओं पर बात हुई है। ठाकुर ने कहा कि डब्ल्यूएफआई के नए अध्यक्ष के चुनाव 30 जून तक होंगे। कुश्ती महासंघ का दैनिक कामकाज फिलहाल भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) की तदर्थ समिति के हाथ में है। ठाकुर ने कहा कि चुनाव होने तक इस समिति में दो कोचों को शामिल किया जाएगा। ठाकुर ने प्रेस कॉन्फेंस में कहा कि मैंने कल सरकार की ओर से पहलवानों को बैठक का न्योता दिया था। लगभग 6 घंटे चली इस बैठक में हमने पहलवानों को आश्वासन दिया है कि (बृजभूषण पर) लगे आरोपों की जांच करके 15 जून तक चार्जशीट दायर की जायेगी, और डब्ल्यूएफआई के चुनाव 30 जून तक किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कुश्ती महासंघ में शिकायत समिति बनायी जायेगी, जिसकी अध्यक्षता एक महिला करेगी। जब तक कुश्ती महासंघ के चुनाव नहीं होते तब तक आईओए की तदर्थ समिति में दो कोचों को शामिल करने के लिये उनका नाम प्रस्तावित किया गया है। ठाकुर ने मंगलवार देर रात ट्वीट कर कहा था कि पहलवानों को बैठक के लिये आमंत्रित किया गयाहै। उन्होंने ट्वीट किया था कि सरकार पहलवानों से उनके मुद्दों पर चर्चा करने को तैयार है। मैंने एक बार फिर पहलवानों को इसके लिये आमंत्रित किया है। ठाकुर ने बताया कि पहलवानों ने कुश्ती महासंघ के नए प्रशासन से बृजभूषण और उनके संबंधियों को दूर रखने की मांग की है। साथ ही पहलवानों ने महिला पहलवानों को सुरक्षा देने की मांग भी की है। ठाकुर ने कहा कि पहलवान 15 जून तक आरोप पत्र दायर होने को लेकर राज़ी हैं, इसलिए वे या उनसे जुड़े हुए लोग इस मामले में प्रदर्शन नहीं करेंगे। बजरंग, साक्षी और विनेश फोगाट एक नाबालिग सहित सात महिला पहलवानों के यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने बृजभूषण के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की हैं, जिनमें से एक पॉक्सो (यौन अपराधों से नाबालिगों का संरक्षण) से संबंधित है। दिल्ली पुलिस ने बीते शनिवार बृजभूषण के गोंडा स्थित निवास जाकर इस मामले में वहां मौजूद कर्मचारियों और सहयोगियों से सवाल-जवाब किए थे। यह केंद्र सरकार और पहलवानों के बीच दूसरी हालिया बैठक है। पहलवानों ने बीते शनिवार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की थी। इनपुट वार्ता Slots And Casino Games Edited by : Nrapendra Gupta